Subscribe To Our Newsletter

Get Our Latest Updates Straight To Your Inbox For
Free! Unsubscribe Any Time Whenever You Want.

Powered by Knigulper

योग दिवस - योगासन करने की विधि और लाभ yoga kaise kare?

योगासन कैसे करे ? योगासन करने के क्या लाभ होते है?


दोस्तों शरीर को स्वस्थ रखने के लिए व्यायाम बहुत आवश्यक होता है. योग का महत्व को ध्यान में रखते हुए 21 जून को विश्व योग दिवस के रूप में मनाया जाता है. योग से तन-मन स्वस्थ रहता है. योग हमारे शरीर को मानसिक शांति देता है.
yoga kaise kare

आज इस post में हम कुछ प्रमुख योगासन के बारे में बताएँगे की योगासन कैसे करते है? इनको करने के क्या क्या लाभ होते है? योगासन के समय किस प्रकार की सावधानी रखनी चाहिए? इस सब के बारे में detail में जानकारी देंगे...

बिना कष्ट के शरीर को लगातार एक ही position में रखना योगासन कहलाता है. योगासन शरीर को तो स्वस्थ और निरोग रखता ही है साथ ही मन की शांति के लिए भी बहुत लाभकारी होता है. योगासन एक प्रकार से व्यायाम की क्रिया है.


योगासन करने से पूर्व और करते समय क्या क्या सावधानियाँ रखे?

         योगासन हमारे शरीर  के लिए बहुत लाभदायक होता परन्तु कोई भी चीज तब तक लाभकारी होती है जब तक उसका उपयोग यदि हम उचित ढंग से करे.  इस पारकर योगासन भी तभी लाभकारी होता है जब उसे हम उचित विधि से और नियमों को ध्यान में रखते हुए करे. अन्यथा इसके कई प्रकार के नुकशान भी हो सकते है ..

⦁    योगासन शांत, स्वच्छ और हवादार स्थान पर करना चाहिए.
⦁    योगासन यदि पहली बार कर रहे हो तो प्रशिक्षक की सलाह में करना चाहिए.
⦁    योगासन भूखे पेट करना चाहिए.
⦁    सायंकाल और प्रात: काल के समय योग करना चाहिए.
⦁    योगासन अपनी क्षमता के अनुसार करना चाहिए, कभी भी शरीर के साथ अधिकता नहीं करनी चाहिए.
⦁    योगासन करने से पहले खुद को वार्म अप जरुर कर ले.
⦁    योगासन की आवृति को समय को धीरे धीरे बढ़ाना चाहिए.

तो उम्मीद है आप योगासन करते समय इन  बातों का जरुर ध्यान रखेंगे. आब कुछ योगासन के बारे में बात करते है जिन्हें  daily करने से कई लाभ होते है.

5 प्रमुख योग 

पद्मासन - मन की एकाग्रता को बढ़ाने वाला आसन

   पद्मासन करने से मानसिक तौर पर बहुत तरह के लाभ होते है.

पद्मासन करने की विधि -
   सबसे पहले सीधे बैठकर अपने दाहिने पैर को बायें पैर की जंघा पर रखेंगे और बाएं पैर को दायें पैर की जंघा पर रखेंगे.
   दोनों हथेलियों को ज्ञान की मुद्रा बनाते हुए घुटनों पर रखेंगे. 
अब इसी आसन में बैठ कर एक जगह पर ध्यान लगाने की कोशिश करेंगे.  इस को शुरू में 2-3 मिनिट के लिए करे और फिर अभ्यास के द्वारा टाइम को बढ़ाए .  पुन: प्रारम्भिक स्थिति में धीरे धीरे आए..

पद्मासन के लाभ
i.       मन की एकाग्रता बढती है.
ii.       ध्यान के लिए उचित आसन है.
iii.       वात रोग में लाभकारी .

ताड़ासन - लम्बाई बढ़ाने में लाभदायक

  ताड़ासन बच्चो के लिए बहुत उपयोगी है जिनकी लम्बाई नहीं बढ़ रही है उन्हें यह आसन करना चाहिए.

ताड़ासन करने की विधि
    सबसे पहले दोनों पैरों के बीच पर्याप्त जगह लेकर सावधान में खड़े हो जाएँगे.
   दोनों हाथों को लम्बी श्वास भरते हुए ऊपर ले जाएँगे. जब हाथ ऊपर जाएँगे उसी समय पैरों की एडियाँ भी ऊपर उठेगी और पुरे शरीर का वजन पंजो पर रहेगा.
पुन: धीरे धीरे श्वास छोड़ते हुए पहले वाली स्थिति में आयेंगे.


ताड़ासन के लाभ
i.      बच्चों की लम्बाई बढ़ाने में सहायक.
ii.      लम्बी श्वास लेने से फेफड़े मजबूत बनते है.
iii.     इस आसन से शरीर के स्नायु विकसित होते है.

जीवन में सफल कैसे हो

वज्रासन - भोजन के बाद किया जाने वाला आसन

   वज्रासन एकमात्र आसन है जो भोजन करने के बाद किया जाता है. यह भोजन के पाचन में सहायक होता है..

वज्रासन करने की विधि
 अपने दोनों घुटनों को पीछे मोड़कर एड़ियों के बीच में बैठ जाए. दोनों पैरों के अंगूठे मिले हुए होने चाहिए और एडियों के मध्य पर्याप्त जगह रखे. और नितंबों को एडियों के मध्य टिका दे.
अपनी गर्दन,शरीर और सिर को सीधा रखते हुए हथेलियों को घुटनों पर रख कर आँखे बंद कर देंगे.
कुछ समय तक इसी स्थिति में रहने के बाद पुन: प्रारम्भिक अवस्था में आ जाएँगे.

वज्रासन के लाभ
i.      भोजन जल्दी पचता है.
ii.      घुटनों  का दर्द कम होता है.
iii.      तनाव से मुक्ति मिलती है.

भुजंगासन - स्वप्न दोष दूर करने मे लाभकारी

     इस आसन करते समय सांप के फन के जैसी आकृति बनती है इसलिए इसको भुजंगासन कहते है.
 
भुजंगासन करने की विधि
   सबसे पहले पेट के बल जमीन पर लेट जाएँगे और शरीर के सभी अंगो को ढीला छोड़ देंगे.
अब अपने हाथ को छाती के पास जमीन पर रखेंगे. फिर धीरे धीरे सिर और सीने के उपरी भाग को सांप के फन की तरह ऊपर उठा लेंगे और नाभि से निचे का हिस्से वाला शरीर जमीन को स्पर्श करेगा.  रीढ़ की हड्डी को पीछे की तरफ झुका लेंगे.  क्षमता अनुसार इस स्थिति में रहेंगे और फिर धीरे धीरे प्रारम्भिक स्थिति में आ जाएँगे.

yoga step


भुजंगासन के लाभ
i.       स्वप्न दोष दूर होता है.
ii.       मेरुदंड मजबूत होता है और वक्ष स्थल का भी विकास होता है.
iii.       पीठ दर्द और गर्दन दर्द को दूर करने के लिए लाभदायक .

सफ़लताकैसे प्राप्त करे

self confidence improve कैसे करे

सर्वागासन - स्मरण शक्ति बढ़ाने में सहायक

   इस आसन से शरीर की सभी क्रिया ठीक होती है और यह सभी अंगो के लिए लाभदायक होता है. इसको करते समय सावधानी रखे और प्रारम्भ में किसी की मदद से करने का प्रयास करे.



सर्वागासन करने की  विधि
  सबसे पहले पीठ के बल जमीन पर लेट जाए, हाथो को शरीर के समानांतर रखें.
अब श्वास भरते हुए पैरों को 90 डिग्री पर उठाएँगे और कुछ देर रुकने के बाद फिर से श्वास लेते हुए हाथो के सहारे शरीर को कंधों पर सीधा उठाएँगे .
इस प्रकार शरीर कंधो, कोहनियों और गर्दन पर टिक जाएगा . पैरों को सीधा रखे.  अपनी नजर पैरों के अंगूठे पर रखे और ठोड़ी को कंठ कूप से लगी रखे.
क्षमता अनुसार इसी स्थिति में रहे और फिर श्वास छोड़ते हुए धीरे धीरे प्रारम्भिक स्थिति में आ जाए.
yoga



loading...
सर्वागासन  करने के लाभ
i.       स्मरण शक्ति बढती है.
ii.       मस्तिष्क में खून का संचार बढ़ता है.
iii.      दमा और खांसी में लाभकारी होता है.
 

 facebook addication kya hai
exam stress kam kaise kare

सकारात्मक सोच का महत्व

दोस्तों यह कुछ योगासन थे जिनको करने से शरीर को बहुत लाभ होता है. उम्मीद है की आपको यह पोस्ट पसंद आयी होगी और यदि आपका कोई सवाल हो तो कमेंट्स के द्वारा हमसे जरुर पूछे.
Note - सभी योगासन को प्रशिक्षक की देखभाल में करे या फिर ध्यान से करे. यह पोस्ट जानकारी के लिए है. 

3 comments:

  1. ब्लॉग बुलेटिन की आज की बुलेटिन, अफीम सा नशा बन रहा है सोशल मीडिया “ , मे आप की पोस्ट को भी शामिल किया गया है ... सादर आभार !

    ReplyDelete
  2. You're doing a great job.I can learn a lot.thanks for this post.you can visit my site to get lots of free recharge tricks

    ReplyDelete