Subscribe To Our Newsletter

Get Our Latest Updates Straight To Your Inbox For
Free! Unsubscribe Any Time Whenever You Want.

Powered by Knigulper

success होना है तो excuse देना छोड़े काबिलियत बढाएं how to success in life

key success factors

hello dosto gyandrashta.com में आपका स्वागत है.
फ्रेंड्स बहुत से लोगो को लाइफ से बहुत शिकायत होती है. वे हर बात के लिए कोई न कोई excuse तैयार रखते है. लाइफ में थोड़ी सी परेशानी आती है तो वे बाहना बनाकर वहां से निकलने की कोशिश करते है जिससे सफलता से दूर होते जाते है.

success-tips


 अरे यार मुझे तो किसी का support नहीं है अन्यथा मैं आज कुछ अलग होता..... मुझे तो हेल्प नहीं मिली अन्यथा मैं भी success होता....... मेरे पास तो पैसे नहीं है...... मेरे माँ बाप मेरी पढने में help नहीं करते..... मुझे तो भरपूर साथं नहीं मिलता....  जैसे कई बहाने बनाते है.

यह सभी हम मेसे बहुत से लोगो की  problems होती है आज हम इस बारे में ही बात करेंगे की reality में यह problems है या सिर्फ एक बहाना ही है.

सफल होने के लिए स्वामी विवेकानन्द के 3 टिप्स 

Top 5 secret of success सफलता कैसे प्राप्त करें

 

दोस्तों धीरू भाई अम्बानी के पास भी पैसे नहीं थे, उन्हें किसी ने भी support नहीं किया लेकिन तो भी वे अपनी मेहनत के दम पर success हुए. ऐसे कई example हमारे सामने है.
लेकिन मैं आज आपको उनके बारे में नहीं बताने वाला हूँ बल्कि एक इसे पेड़ की कहानी बताने वाला हूँ जो आपको यह सोचने पर मजबूर कर  देगी कि हमारे excuse सिर्फ बहाने है और कुछ नहीं .

 how to be successful in life


राजस्थान में एक पेड़ आपको बहुल रूप से मिलेगा. मरुस्थल की कठिन परिस्थतियों में भी वो हरा भरा रहता है और निरंतर फलता फूलता रहता है. दोस्तों उस पेड़ को बबूल के नाम से जाना जाता है. आज हम बबूल की कहानी सुनेगे की वो कैसे अपने आप को विकट हालात में भी सुरक्षित रखता है.
दोस्तों जो हम excuse देते है कि हमारे पास यह यह नहीं है अन्यथा यह कर लेते तो आपको यह पोस्ट last तक जरुर पढनी चाहिए .

friends बबूल का पेड़ मरुस्थल में पाया जाता है जहाँ पानी जमीन में बहुत निचे होता है और वहां की गर्मी भी बहुत अधिक होती है. इसके बाद भी बबूल शान से खड़ा रहता है.

बबूल को बड़े होने में कोई मदद नहीं करता बल्कि वो अपनी मेहनत से बड़ा होता है. पानी बहुत गहरा होता है इसलिए यह अपनी जड़ों को लम्बी करता है. आसपास कोई पशु उसे खा न जाए इसलिए अपने शरीर पर कांटे पैदा करता है. चाहे कैसी भी परिस्थति हो हमेशा खिलता रहता है.

बबूल के पेड़ पर आने वाले पीले पीले फूल बहुत ही सुहावने होते है और सोने के समान लगते है  इसलिए इन फूलों को गाँव की लड़कियाँ अपने सिर  पर आभूषण के रूप में लगाती है .  बबूल के पेड़ पर आने वाली फली भी बहुत काम की होती है.


how to be successful in life? जीवन में सफल कैसे हो?
सकारात्मक सोच का महत्व | power of positivity


इसप्रकार बबूल का पेड़ बिना किसी सहयोग के बड़ा होता है और लोगो के लिए खुशियाँ लाता है. उसी प्रकार हमारे जीवन में भी यही problem आती है और हम डर जाते है बल्कि हमें उससे जूझना चाहिए.

आप से में पूछना चाहूँगा की -
हम यह excuse देते है कि हमारे पास किसी का support नहीं है तो बबूल को कौन सहयोग देता है?  हमारे पास पैसे नहीं है, तो बबूल को पानी कौन देता है? पढने में या bissuness में कोई help नहीं करता तो बबूल में  कौन खाद डालता है?

वो बिना किसी हेल्प के अपने मेहनत के बल पर बड़ा होता है तो फिर हम क्यों नहीं?

हमारे पास किसी का support नहीं है तो क्या हुआ हम खुद अपने सहयोगी हो सकते है. हम अपनी काबिलियत को इतनी बढ़ाएं की पानी चाहे कितना ही गहरा क्यों न हो हम अपनी क्षमता से उसे पा सके.

दोस्तों यदि सब जगह हुनर की पहचान होती है यदि हम में हुनर और काबिलियत है तो फिर कोई success होने से नहीं रोक सकता.

यह excuse देना बंद करके यदि हम अपनी काबिलियत को बढाएं तो हम भी एक दिन success हो सकते है.
जैसे बबूल का पेड़ विकट हालात में अपने को खड़ा रखता है उसी प्रकार हमें भी अपनी काबिलियत को इतनी बढ़ानी है की हालत कैसे भी हो? हम उन हालात में भी मुस्कराते हुए खड़े रहे.  क्योंकि सोने की परख आग से की जाती है कोई मोम को आग में नहीं तपाता.

यदि सोना बनना है तो आग में तपना होगा तभी आप सोने के समान आभूषण बन सकते है. बबूल सोने के समान तपता तभी तो उसके फूलों को लोग आभूषण के समान मानते है.

गुरू और शिष्य की कहानी Guru or shishy ki kahani in hindi

चाणक्य के 25 अनमोल वचन chanakya niti in hindi

 

आपको हमारी यह पोस्ट पसंद आयी हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करे और यदि इस पोस्ट
 पर आपके कोई विचार  हो तो कमेंट बॉक्स में जरुर रखे. 
हमारी नई पोस्ट को अपने ईमेल पर फ्री में पाने के लिए हमारा फ्री ईमेल सब्सक्रिप्शन जरुर लें.

2 comments: