प्रेरणादायी कहानी – दोस्त और दुश्मन | inspirational story in hindi


Motivational Story - Friends And Enemy


एक time की बात है एक छोटी चिड़िया भोजन की तलाश में अपने घोसले से बहुत दूर निकल गई। वापिस आते समय रात होने लगी। जनवरी का महिना था इसलिए ठंड जोर की पड़ रही थी। घर जाने की लालचा में चिड़िया भयंकर ठंड में भी उड़ रही थी। लेकिन छोटी चिड़िया उस ठंड को सहन नहीं कर प् रही थी। उसका पूरा शरीर ठंड से कांप रहा था और पंख भी सिकुड़ रहे थे।


hindi-story



   भयंकर ठंड के कारण चिड़िया का उड़ना असम्भव हो गया और वो जमीन पर आ पड़ी। वो ठंड से ठिठुर रही थी तभी एक गाय ने चिड़िया पर गोबर कर दिया। अब चिड़िया ओर संकट में आ गई और वो गाय को कोसने लगी। लेकिन तभी चिड़िया को गोबर के कारण गर्मी महसूस होने लगी और उसके शरीर पर ठंड का असर भी कम होने लगा।

   थोड़ी सी गर्मी आने के कारण चिड़िया मधुर गीत गाने लगी। तभी पास से गुजर रही बिल्ली ने उस मधुर गीत को सुना और उसने उस गोबर में से चिड़िया को निकालने लगी। चिड़िया को जैसे ही अपने ऊपर से गोबर हटते हुए महसूस हुआ वो मन ही मन उस गोबर हटाने वाले को धन्यवाद देने लगी। लेकिन बिल्ली ने गोबर में से चिड़िया को बाहर निकाल  कर खा गई।


शिक्षा moral
  
      दोस्तों चिड़िया जिसे अपना दुश्मन समझ रही थी वो तो उसकी दोस्त निकली और जिसे वो अपना दोस्त समझ रही थी वो उसकी दुश्मन निकली।



दोस्तों हमारे जीवन में इस कहानी का बहुत ही महत्त्व है। जब हम छोटे होते है तो हमारे माता पिता हम पर दबाव डालते है और हमें लगता है वो हमारे दुश्मन है लेकिन ऐसा नहीं होता है वो हमारे भले के लिए यह सब करते है। ताकि हम गर्मी पाकर मधुर गीत गा सके।

लेकिन हम तो उन लोगो को अपना हितेषी मानते है जो हमे उस दबाव से बाहर निकालते है लेकिन इसके पीछे उनका क्या स्वार्थ है वो हम नहीं जान पाते है और उनकी चाल का शिकार हो जाते है।

दोस्तों जीवन में हम कुछ करना है तो दबाव तो सहन करना ही होगा और आग में तपना भी पड़ेगा तभी हमे सफलता मिलेगी।

महाभारत में मामा शकुनी हर समय दुर्योधन को भड़काते रहते थे उसके पीछे भी उनका स्वार्थ था। लेकिन दुर्योधन उस को समझ नहीं पाया और उसका अंत भी चिड़िया की तरह हो गया|

read motivational story





रामायण की प्रेरणादायी कहानी

दोस्तों यदि आपको हमारी post पसंद आयी हो तो अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करे और हमारी नई पोस्ट को अपने ईमेल पर पाने के लिए हमारा free email subscribe जरुर ले। 


विरम सिंह
विरम सिंह

He is a educational blogger and share useful content in hindi on this blog regularly. if you like this blog then share with your friends.

2 comments:

  1. वाकई बहुत ही शानदार कहानी है। पढ़ कर मजा आ गया सा‍थ ही यह कहानी बहुत अच्छा संदेश भी देती है।

    ReplyDelete
  2. nice story bhai likhte rahe aap badhiya story hamare liye

    ReplyDelete