दो मेंढक Best Hindi Motivational Story




एक Time मेंढकों का एक Group जंगल के रास्ते  तालाब की ओर जा रहा था । सभी मेंढक अपनी मस्ती मे चल रहे थे । तभी अचानक दो मेंढक एक गड्ढे में गिर गये ।
गड्ढा  थोड़ा गहरा था । जब अन्य मेंढकों ने देखा कि गड्ढा बहुत गहरा है तो उन्होंने दोनो मेंढकों से कहा कि यहा से बाहर निकलना मुश्किल है ।



लेकिन दोनो मेंढक उन के comments को  नजरअंदाज करते हुए बाहर आने की कोशिश करने लगे ।
लेकिन बाहर खड़े मेंढक उन्हे लगातार यह कह रहे थे कि तुम यहा से बाहर नही निकल सकते ।
आधे रास्ते मे अटके हुए दोनो मेंढकों मे से एक ने बाहर खड़े मेंढकों की बातो पर ध्यान दिया ओर उसने अपनी पकड़ छोड़ दी और वह निचे गिर कर मर गया ।

दूसरा मेंढक सभी की बातो को अनसुनी करते हुए लगातार कोशिश करता रहा । अन्त में बड़ी मुश्किल से वो उस गहरे गड्ढे से बाहर आने में सफल हो गया ।

जब वो बाहर आया तो अन्य मेंढकों ने पूछा कि " क्या तुमने हमारी बाते नही सुनी ?"
मेंढक ने Explained करते हुए कहा कि " वह बहरा है उसे दूर से सुनाई नही देता ।"
इसलिए वह मेंढक सोचता रहा कि यह सब साथी उसको प्रोत्साहित कर रहे है क्योंकि उसको सुनाई तो देता नही था ।

शिक्षा -  जीभ मे जीवन और मौत की शक्ति है ।
  एक शब्द किसी को नीचे से ऊपर उठा सकता है और ऊपर से नीचे ला सकता है । इसलिए जो भी कहे सोच समझ कर कहे ।
Motivational words किसी की life को successful बना सकते है ।

Keywords - best hindi motivated story , hindi story, best hindi motivational story , hindi inspired story , inspirational story , 2 मेंढक की कहानी 
 

Motivational story
मै और मैना का रहस्य


विरम सिंह
विरम सिंह

He is a educational blogger and share useful content in hindi on this blog regularly. if you like this blog then share with your friends.

No comments:

Post a Comment