Top 5 secret of success सफलता कैसे प्राप्त करें




How to success in business


friends आपने success होने के लिए कई तरह के मंत्र पढ़े होंगे और बहुत से मंत्रो को आपने अपनाया भी होगा| success होने के कुछ तरीके common होते है और कुछ different होते है|



अलग और अनोखे तरीके ही हमे दुसरो से अलग बनाते है और हमे सफलता दिलाते है| एक सक्सेस entrepreneur में success होने के लिए जूनून होता है और इस वजह से वो हार नहीं मानता है| success होने के लिए हर entrepreneur का अपना अलग तरीका होता है|
    आज हम कुछ ऐसे ही अलग तरीको वाले success entrepreneur की सफलता के राज आपको बताने वाले है-

success


how to success in life

1. खुद का बेस्ट दें

       दोस्तों वर्जिन ग्रुप के founder रिचर्ड ब्रेनसन कहते है की आप जैसे है, वैसे ही बनें| आप खुद को अपनाय और खुद को स्वीकार करें|
 उनके कहने का मतलब है आप एनी लोगो की नकल करके उनके जैसे बनने की कोशिश न करे बल्कि जैसे आप है वैसे ही रहे| अपनी ability को पहचाने और आगे बढ़े| जब आप अपना best देते है तो आप अवश्य ही success होंगे|

2. जोखिम जरुर लें

          facebook के founder मार्क जुकरबर्ग का मानना है की यदि आपको success होना है तो आपमें जोखिम लेने का हौसला होना चाहिए| यदि success होना है तो risk तो लेनी ही पड़ेगी| इसलिए यदि अपमे रिस्क लेने की हिम्मत है तो आप जरुर success हो सकते है|
 मार्क जुकरबर्ग ने भी facebook news feed lunch करके बड़ा दांव लगाया था|



3. अधिक से अधिक दें

          apple के founder स्टीव जॉब्स का मानना था कि हमें परफेक्शन और डिटेलिंग को लेकर जुनूनी होना चाहिए|
 उनका कहना था की यदि आपको अपने ब्रांड की फ़िक्र है तो पूरी लगन से काम कीजिए और अपने customer को अधिक से अधिक देने की कोशिश कीजिए| यदि ऐसा करते है तो आप जरुर success होंगे|

4. जरूरत बन जाएं

   कारोबारी जॉन पॉल डी जोरियो का कहना है की आप ऐसा product तैयार करे जो हर व्यक्ति की जरूरत बन जाए| आपका बिसनेस मॉडल ऐसा हो की वह लोगो के जीवन का हिस्सा बन जाएँ|
यदि आप का product किसी ki life का हिस्सा बन जाएँ, तो आपको सक्सेस होने से कोई रोक ही नहीं सकता|

5. सुलझे हुए रहे

     microsoft के founder बिल गेट्स का मानना है की किसी को बहुत जटिल नहीं होना चाहिए | व्यक्ति को सावधानी के साथ समस्या का हल निकलना चाहिए|
यदि आप सुलझे हुए है तो आप अपने clinte से अच्छे से हैंडल कर सकते है जो की आपके बिसनेस के लिए बहुत जरुरी है|



प्रेरणादायी कहानी – दोस्त और दुश्मन | inspirational story in hindi 
सकारात्मक सोच का महत्व | power of positivity 

दोस्तों आपको हमारी यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करे और हमारी नई पोस्ट को अपने ईमेल पर प्राप्त करने के लिए हमारा free email subscribe जरुर लें|



 

How to success in business friends आपने success होने के लिए कई तरह के मंत्र पढ़े होंगे और बहुत से मंत्रो को आपने अपनाया भी होग...

life में असफल क्यों होते है? the secret of success in life


दोस्तों life में हमारे बहुत से dreams होते है। कुछ लोग उन dreams को साकार कर लेते है और कुछ लोगो के सपने पुरे नहीं हो पाते है। आपके मन में सवाल होगा की आखिर ऐसा क्यों होता है? हम अपने सपने पुरे क्यों नहीं कर पाते है?
 आज हम इसी Topics पर बात करेंगे की वो क्या कारण है जिसकी वजह से हम असफल होते है? दोस्तों life में ऐसे बहुत से कारण हो सकते है जो आपके सपनों को पूरा होने में बाधक बनते है लेकिन आज हम जिन कारण की बात कर रहे है वो सीधे सीधे हमसे ही जुड़े हुए है।
 key to success in life in hindi  

success-tips


  हमारे सपने पुरे नहीं होने की सबसे बड़ी वजह है हम खुद, हमारा डर! जी हाँ हमारे सपने पुरे न होने की सबसे बड़ी वजह हमारा डर ही है जो बाधक बनता है।
  दोस्तों जब भी हम कोई काम करते है तो कुछ चीजो को लेकर भयभीत रहते है और जिसकी वजह से हम success नहीं हो पाते ।

 how to success in life


#1 दुसरे लोग क्या कहेंगे?
      जब भी हम कोई काम शुरू करते है तो हमारे मन में यह सबसे पहले सवाल आता है कि –“लोग क्या कहेंगे?” हम जो काम कर रहे है इस पर दुसरे लोग क्या सोचेंगे। और जो लोग इन सवालों से भयभीत हो जाता है फिर उसके सपने सच नहीं हो पाते है। उन्हें डर लगता है की लोग उनकी मजाक उडाएँगे।
    अरे! दुनिया के पास अपनी problem से भी निपटने का time नहीं है वो आपके बारे में क्यों सोचेंगे। फिर भी दुनिया में लाखो लोग इस डर की वजह से अपनी भावनाओं और अपने सपनों को दबा कर बैठे रहते है।

#2 बदलाव और नुकसान का डर 

success
        अधिकतर लोग बदलाव से डरते है। ऐसे लोगो नई चीजों को आसानी से अपना नहीं पाते है। और ज्यादातर लोग नुकसान से बहुत डरते है। वे सोचते है की यदि में इस काम में असफल हो गया तो मेरा नुकसान हो जायेगा। लोग में इस बात का भय होता है की जो काम वो start कर रहे है यदि उसमे वे असफल हो गये तो उन्हें अपना जीवन गरीबी में गुजारना पड़ेगा। और इस वजह से वे अपने सपनों को साकार नहीं कर पाते है।



#3 अलगाव का डर
     कुछ लोगो को डर होता है की वे जो काम कर रहे है उससे उनके सगे सम्बंधियों से अलगाव हो सकता है। दोस्तों लोगो में इस बात का भी भय होता है की कई उनके इस तरह की सोच या विचार से लोग उन्हें अलग समझने नहीं लग जाए।

#4 असफलता का डर
   आमतौर पर बहुत से लोगो में असफल होने का डर होता है जिसकी वजह से वो success नहीं हो पाते है। लोग काम करने से पहले ही उसके results के बारें में सोच सोच कर डर जाते है और यही डर उन्हें उनके सपनों से दूर कर देता है।




दोस्तों आपको हमारी यह post अच्छी लगी हो तो अपने दोस्तों के साथ जरुरु शेयर करे और हमारा free email subscribe जरुर लें |

दोस्तों life में हमारे बहुत से dreams होते है। कुछ लोग उन dreams को साकार कर लेते है और कुछ लोगो के सपने पुरे नहीं हो पाते है। आपके मन मे...

प्रेरणादायी कहानी – दोस्त और दुश्मन | inspirational story in hindi


Motivational Story - Friends And Enemy


एक time की बात है एक छोटी चिड़िया भोजन की तलाश में अपने घोसले से बहुत दूर निकल गई। वापिस आते समय रात होने लगी। जनवरी का महिना था इसलिए ठंड जोर की पड़ रही थी। घर जाने की लालचा में चिड़िया भयंकर ठंड में भी उड़ रही थी। लेकिन छोटी चिड़िया उस ठंड को सहन नहीं कर प् रही थी। उसका पूरा शरीर ठंड से कांप रहा था और पंख भी सिकुड़ रहे थे।

Motivational Story - Friends And Enemy एक time की बात है एक छोटी चिड़िया भोजन की तलाश में अपने घोसले से बहुत दूर निकल गई। वापिस आते समय...

शिक्षाप्रद कहानी - कौआ और हाथी | motivational story


  The best hindi motivational story



एक जंगल में एक कौआ रहता था। वह इधर उधर मरे हुए पशु पक्षियों के शरीर को अपना भोजन बनाता था। एक बार वह कौआ जंगल के पास बहने वाली नदी पर पानी पिने के लिए गया। उसने देखा की वह पर एक बहुत बड़े हाथी की लाश पानी में बह रही थी कौआ उसे देख कर बहुत खुश हुआ। और तुरंत उड़ कर लाश पर बैठ गया और भगवन को धन्यवाद देने लगा की उन्होंने उसके लिए यह सब व्यवस्था की| 

Hindi-story




       कौआ भूख लगने पर लाश को नोच कर खा लेता और प्यास लगने पर नदी से पानी पीता। और रात व दिन उसी लाश पर बैठा रहता था।

      नदी का पानी लाश को उसके लक्ष्य की और ले जा रहा था परन्तु लक्ष्यहीन कौआ उस लाश के साथ जा रहा था। कौआ भोजन और जल की सुविधा से खुश था और वो उसके आगे कोई नई बात नहीं सोचता था वह तो सिर्फ लाश को नोच कर खाता तथा पानी पीकर लाश पर ही सो जाता।

   एक दी नदी लाश को उसकी मंजिल पर ले गई। लाश अपनी मंजिल समुन्द्र में पहुँच गई जहाँ पर उसे पहुंचना था लेकिन कौआ अब दुविधा में फंस गया। चारो और अथाह जल था और वो भी खारा। कौआ को वहा पर न तो भोजन मिलता न ही जल।

  इस तरह फसे कौए को एक भूखे मगरमच्छ ने दबोच कर खा लिया और कौए की इहलीला समाप्त हो गई।

शिक्षा moral  



   दोस्तों बहुत से लोगो का जीवन इस कौए की तरह होता है न तो उनका कोई लक्ष्य होता है और न ही कोई जीवन का उद्देश्य। वे तो सिर्फ बस जिन्दगी के दिन निकाल रहे होते है। और फिर उनका अंत भी इस कौए की तरह दुविधा में फंस कर होता है।

दोस्तों जब तक जीवन में कोई लक्ष्य नहीं तो जीवन जीने का कोई मतलब ही नहीं रह जाता। इस संसार में भोजन तो सभी प्राप्त कर लेते है जिस प्रकार इस कहानी में कौए के पास भोजन था लेकिन उसका कोई लक्ष्य नहीं था वो तो बस बहता जा रहा था और उसका जीवन भी उसी प्रकार समाप्त हो गया।

दोस्त यदि आपके पास कोई लक्ष्य है तो आप उसे जरुर पा सकते है और आपकी कोई help भी कर सकता है जिस प्रकार उस लाश को समुन्द्र में जाना था तो उसके इस लक्ष्य को पूरा करने में नदी के पानी ने मदद की लेकिन कौए का कोई लक्ष्य नहीं था तो उसे मगरमच्छ खा गया।


दोस्तों आपको हमारी कहानी अच्छी लगी हो तो अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करे और हमारी नई पोस्ट को अपने ईमेल पर प्राप्त करने के लिए हमारा फ्री ईमेल सब्सक्राइब जरुर ले।

Read More Motivational Story




  The best hindi motivational story एक जंगल में एक कौआ रहता था। वह इधर उधर मरे हुए पशु पक्षियों के शरीर को अपना भोजन बनाता था...