नवाबजादा, सहजादा और हरामजादा हिन्दी कहानी


Hindi Motivational story 


एक समय एक राजकुमार कही जंगल मे घूमने गया । अकेला था , उसे प्यास लगी तभी एक कुआ दिखाई दिया वह वहाँ गया लेकिन वहाँ जाके बैठ गया सोचा कोई आयेगा तो पानी पिला देगा , मुझे तो बस Order देना है । क्योंकि मै स्वयम् कुएँ से पानी निकालूं तो मेरी  शान कम हो जाएगी क्योंकि मै तो नवाबजादा हूँ ।



थोडी देर मे एक व्यक्ति और आया वो भी प्यासा था लेकिन बाल्टी ,कुआ देखकर वो भी बैठ गया नवाबजादा बोला अरे भाई! जरा पानी पिलाना ।
वह आदमी बोला तुम स्वयँ उठ के पी लो ।
राजकुमार बोला मै नही पी सकता क्योंकि मै पानी कुएँ से नही निकाल सकता ।
उस व्यक्ति ने पूछा क्यो ?
राजकुमार बोला क्योंकि मे नवाबजादा हूँ ।
वह व्यक्ति बोला तो पानी तो मुझे भी पीना है पर मै भी कुएँ से पानी नही निकाल सकता क्योंकि मै सहजादा हूँ
मै अगर पानी की बाल्टी भरूंगा तो मेरी नाक नीची हो जाएगी ।

दोनो बैठ गए तभी वहाँ एक गरीब व्यक्ति लेकिन शरीर का हट्ठा - कट्ठा था आया उसे भी प्यास लगी थी उसने तुरंत बाल्टी उठायी रस्सी पकडी और बाल्टी कुएँ मे डाली पानी निकाला पिया।

 इतने मेल नवाबजादा और सहजादे ने कहा अरे भाई हमको भी पानी पिला दो , हम भी प्यासे है । वह जवान व्यक्ति बोला आप तो यहाँ पहले से मौजूद है , आपने पानी क्यो नही पिया ?

उन्होंने उत्तर दिया पानी पीये कैसे मै नवाबजादा हूँ और ये सहजादा है । हम पानी की बाल्टी नही खींच सकते क्योंकि हमने कभी पानी की ग्लास भी नही भरी है ।

तो उस जवान व्यक्ति ने कहा अच्छी बात है । अब तो मै भी तुम्हे पानी नही पिलाऊंगा, क्योंकि तुम हो नवाबजादा और यह सहजादा वह बाल्टी कुए मे गिराकर बोला और मै हू हरामजादा तुम आलसी लोगो के लिए यही सजा है ।

शिक्षा  Moral

   जो व्यक्ति आलसी होता है वह सरोवर के तट पर भी बैठकर प्यासा रह जाता है और हमेशा हमेशा के लिए उसके जीवन मे सफलता के द्वारा बंद हो जाते है ।

इसलिए आलस्य न करे । अपने काम नियत समय पर करे और स्वयँ करने मे नि हिचकियाए ।

Read Also

[ज्ञान द्रष्टा: रामायण की प्रेरणादायी कहानी | Ramayana Inspiring Story In Hindi]


[ज्ञान द्रष्टा: दो मेंढक Best Hindi Motivational Story] 


आपको हमारी यह " नवाबजादा, सहजादा और हरामजादा हिन्दी कहानी " कैसी लगी comments करके जरूर बताय और यदि अच्छी लगे तो अपने दोस्तो के साथ जरूर share करे ।


 Keywords :- Best Hindi Inspirational ideas , Best Hindi Inspirational story, hindi motivational story , lazy men , 2 lazy men story , story in hindi .

विरम सिंह
विरम सिंह

This is a short biography of the post author. Maecenas nec odio et ante tincidunt tempus donec vitae sapien ut libero venenatis faucibus nullam quis ante maecenas nec odio et ante tincidunt tempus donec.

No comments:

Post a Comment